धनाऊ। सरकारी विद्यालय का छात्र देरावरसिह ब्लॉक स्तर पर प्रथम - Do Kadam Ganv Ki Or

Do Kadam Ganv Ki Or

पढ़े ताजा खबरे गाँव से शहर तक

Recent Tube

test banner

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

2 जून 2018

धनाऊ। सरकारी विद्यालय का छात्र देरावरसिह ब्लॉक स्तर पर प्रथम


धनाऊ। सरकारी विद्यालय का छात्र देरावरसिह ब्लॉक स्तर पर प्रथम
संजय जैन की रिपोर्ट
बाड़मेर/धनाऊ। राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय, धनाऊ ने इस वर्ष फिर से किया १२ वी कला वर्ग में नाम रोशन किया। शिक्षकों की मेहनत व विद्यार्थियों की लगन से १२६ में से ९३ बच्चे हुए प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण, देरावर सिंह पुत्र भाखर सिंह ने ९१.४० प्रतिशत अंक प्राप्त कर विद्यालय में प्रथम रहा एवं विद्यालय के ११ बच्चों ने ८० प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त किये हैं।
दिन में काम रात में पढाई
देरावरसिह किसान परिवार से है, दिन में माता पिता के साथ काम में हाथ बढाता फिर शाम को पढाई करता, पढाई में होनहार होने के नाते धनाऊ ब्लॉक पर अपनी धाक जमाई, २९ सरकारी उच्च माध्यमिक विधालय ब्लॉक पर अपना नाम रोशन किया, धनाऊ क्षेत्र में शिक्षा की नई किरण जगाई।
निजी विधालय को हैरथ में डाला
आस पास के निजी विधालय के बच्चो देरावरसिह ने टॉप कर निजी शिक्षक को सोचने को मजबुर कर दिया, निजी विधालय के विधार्थियो को अतिरिक्त कक्षाए लगाकर रटा लगाने वाले शिक्षको की मेहनत पर पानी फेर दिया।
गॉव में खुशी की लहर
जैसे ही ग्रामीणो को पता लगा की किसान का बैटा धनाऊ ब्लॉक पर प्रथम रहा, तब ग्रामीणो देरावरसिह के घर पर बधाई का तॉता लग गया। देरावरसिह के माता पिता के खुशी के आसु छलक आए।
अभी मंजिल बाकी है
देरावरसिह ने बताया कि अभी रास्ता बाकी है, मेरा सपना आईएस बनना है तब जाकर पढाई का रुतबा पुरा हो, मेरा संघर्ष जारी रहेगा।
प्रधानाचार्य खुमाराम सेंवर ने सभी विद्यार्थियों व शिक्षकों को शुभकामना देते हुए कहा कि यह समस्त स्टाफ की मेहनत का परिणाम है जिन्होंने छात्रों के लिए सालभर अतिरिक्त कक्षाएं लगाई, तथा साथ ही बताया कि विद्यालय की हर गतिविधि एवं कक्षाओं पर सीसीटीवी कैमरों से नजर रखी जाती है। नोडल विद्यालय होने के कारण पूरे साल सूचनाओं का आदान प्रदान होता रहता है एंव हर महिने मिटिंग होती रहती है जिससे पर्याप्त कक्षा कक्ष नही होने पर छात्रों को बाहर बैठाकर पढाया जाता है, लेकिन छात्रों व शिक्षकों ने भौतिक संशाधनों की कमी के बावजूद हमेशा कङी मेहनत की जिससे विद्यालय का परीक्षा परिणाम सराहनीय रहा देरावरसिंह के परिवार में खुशी की लहर हैं।

छात्र का कहना है कि इसका श्रेय मेरे माता पिता को ओर गुरुजनो का है मेरा एक सपना है आई ए एस बनना।
इस अवसर पर लहर चामुंडा सेना अध्यक्ष अर्जुनसिंह राठौड़ ने बताया कि हंमे गर्व है कि हमारे समाज एवं गांव का नाम देरावरसिंह ने रोशन किया।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages