गोशालाओं में पल रहे गोवंश को वर्षभर अनुदान राशी दी जाएं:सोनी - Do Kadam Ganv Ki Or

Do Kadam Ganv Ki Or

पढ़े ताजा खबरे गाँव से शहर तक

Recent Tube

test banner

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

13 अप्रैल 2017

गोशालाओं में पल रहे गोवंश को वर्षभर अनुदान राशी दी जाएं:सोनी

@ सुनील दवे

बाड़मेर/समदड़ी। जिला कांग्रेस सेवादल के उपाध्यक्ष एवम् पूर्व पंचायत समिति सदस्य पुरुषोत्तम सोनी समदड़ी ने राजस्थान के महामहिम राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर बताया की।
बाड़मेर जिले में पड़ रही इस भीषण गर्मी में गोवंश भारी संकट के दौर से गुजर रहा है।राजनीती में सबसे ज्यादा गायों की बात करने वाली बीजेपी की सरकार में प्रदेश की गोशालाओं पर आर्थिक संकट खड़ा हो गया है सरकार ने  इसको लेकर अभी तक कोई माकूल व्यवस्था नहीं की है।
सोनी ने गायों की विभिन्न समस्याओ को लेकर सरकार से मांग करते हुए कहा कि पश्चिम राजस्थान में अकाल एवम् सूखे की स्थिति है पशुधन के लिए चारे की भयंकर समस्या है।  पूर्ववर्ती गहलोत सरकार में गोशालाओं को वर्ष में नो महीने तक अनुदान दिया था और भयंकर अकाल में भी गोवंश को कोई तकलीफ नही होने दी।
अतः सरकार  गोशालाओं को वर्ष में 9-10महीने अनुदान दे साथ ही बाड़मेर जिले में अकाल एवम् सूखे को देखते हुए प्रत्येक ग्राम पंचायत स्तर पर पशु शिविर खोले।
भवन रहित पशु उपकेंद्रों पर भवन निर्माण करे सरकार-बाड़मेर जिले में अधिकाश पशु उपकेंद्रों के भवन नहीं है और न ही कार्मिक है केवल कागजो में चल रहे है।
जिला मुख्यालय पर बहु उद्देशीय पशु चिकित्सालय में उचित सार संभाल के अभाव में लाखो रूपये की मशीन खराब हो रही है।अधिकांश कार्मिको के पद रिक्त पड़े है। पूर्व वर्ती सरकार की शुरू की गई निशुल्क पशुधन दवा योजना का भी बुरा हाल है।
गौशालाओ संचालको के लिए गोवंश को पालना अब गले को घण्टी बन गया है वे अब सरकार द्वारा अनुदान राशी नहीं देने से वो आवारा पशुओ को लेने से इंकार कर रहें हे ऐसे में सेकड़ो गोवंश भूख व् प्यास से तड़प कर मरने को मजबूर हो गए है ।
अतः सोनी ने राज्यपाल महोदय से निवेदन किया है की अविलम्ब इन बेज़ुबान गोवंश को बचाने के लिए गौशालो में अनुदान राषि व् गावो में चारे पानी की व्यवस्था के लिए पशु शिविर खोलने का आदेश करावे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages