बेजुबान परिंदों के लिए परिंडा अभियान सराहनीय कार्यःगोयल - Do Kadam Ganv Ki Or

Do Kadam Ganv Ki Or

पढ़े ताजा खबरे गाँव से शहर तक

Recent Tube

test banner

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

13 अप्रैल 2017

बेजुबान परिंदों के लिए परिंडा अभियान सराहनीय कार्यःगोयल

प्रभारी मंत्री ने कहा कि हर घर की छत पर पक्षियों के लिए परिंडे लगाए
बाड़मेर, 13 अप्रैल। जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री और बाड़मेर जिले के प्रभारी मंत्री सुरेंद्र गोयल ने गुरुवार प्रातः ग्रुप फॉर पीपुल्स बाड़मेर द्वारा संचालित किए जा रहे परिण्डे अभियान में अपनी सक्रिय भागीदारी निभाते स्थानीय सर्किट हाउस परिसर में पक्षियों के लिए परिंडे लगाए। उल्लेखनीय है कि ग्रुप फॉर पीपुल्स पिछले दो सालों से हर गर्मी के मौसम में पक्षियों के लिए परिंडे लगाने का कार्य कर रहा है।
इस अवसर पर प्रभारी मंत्री सुरेंद्र गोयल ने कहा कि ग्रुप की ओर से सामाजिक सरोकार के सेवा कार्य किये जा रहे है। इस तरह के प्रयासों से हजारो बेजुबान पक्षियों को जीवनदान मिलता हैं। भीषण गर्मी में मिट्टी के परिण्डे लगाने का कार्य सुखद हैं। उन्होंने आह्वान किया कि घर घर मे आम जन पक्षियों के लिए परिण्डे लगाए। उन्होंने कहा कि ग्रुप द्वारा नीम महोत्सव के तहत शानदार कार्य किया गया था। गोयल ने ग्रुप सदस्यो को लगाए गए परिंडों में नियमित पानी की व्यवस्था की जिम्मेदारी निभाने को कहा। ग्रुप संयोजक चन्दन सिंह भाटी ने कहा कि ग्रुप द्वारा नियमित रूप से सामाजिक सरोकार के सेवा कार्य किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक परिण्डे लगाने के साथ नियमित रूप से उनमे पानी भरने की जिम्मेदारी निकटतम व्यक्ति को दी जा रही है। उन्होंने कहा कि गक्त वर्ष सरहद पर ग्रुप द्वारा परिण्डे लगाने का नेक कार्य किया था। महेश पनपालिया ने कहा कि सभी को पक्षियों के प्रति दया भाव रख परिण्डे लगाने का नेक कार्य करना चाहिए। इस अवसर पर ग्रुप संयोजक चन्दन सिंह भाटी, संजय शर्मा, महेश पनपालिया, नरेंद्र खत्री, दुर्जन सिंह गुडीसर, रमेश सिंह इंदा, स्वरुपे सिंह भाटी, मदन बारूपाल, जसवंत सिंह चैहान, विक्रम सिंह तामलोर, आनंद पुरोहित, राजेन्द्र लहुआ, दिग्विजय सिंह चुली, हाकम सिंह भाटी, जय परमार सहित समेत कई लोग उपस्थित थे। ग्रुप अध्यक्ष आजाद सिंह राठौड़ ने बताया कि इस बार ग्रुप की ओर से दो हजार परिंडे लगाए जाएंगे। पक्षियों के लिए पेयजल की स्थाई व्यवस्था पर भी विचार किया जा रहा हैं। ग्रुप संयोजक चन्दन सिंह भाटी ने सबका आभार जताया।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages