राशन गेंहू कालाबाजारी प्रकरण, राशन डीलर के खिलाफ मामला दर्ज, जब्त किया रिकाॅर्ड, दुकान भी सीज - Do Kadam Ganv Ki Or

Do Kadam Ganv Ki Or

पढ़े ताजा खबरे गाँव से शहर तक

Recent Tube

test banner

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

21 जनवरी 2017

राशन गेंहू कालाबाजारी प्रकरण, राशन डीलर के खिलाफ मामला दर्ज, जब्त किया रिकाॅर्ड, दुकान भी सीज

  • राशन गेंहू कालाबाजारी प्रकरण
  • राशन डीलर के खिलाफ मामला दर्ज, जब्त किया रिकाॅर्ड, दुकान भी सीज
  • रसद विभाग की मिलीभगती की खुली पोल
  • क्या केरोसीन, शक्कर कालाबाजरी की भी होगी जांच

@ बंशीलाल चौधरी

बाड़मेर/बायतु/गिड़ा। खारडा भारतसिंह क्षेत्र में सरकारी गेंहू की कालाबाजारी मामले में नया मोड आ गया हैं। पुलिस की प्रारंम्भिक जांच में 390 क्विंटल से अधिक के गेंहू का गबन सामने आया हैं। पुलिस ने बताया कि सरकारी गेहूँ के कालाबाजारी मामले में पुलिस ने राशन डीलर अमेदाराम वल्द मगाराम जाट के खिलाफ आईपीसी की धारा 406, 420 में मामला दर्ज करके राशन वितरण से संबंधित समस्त रिकाॅर्ड तलब करते हुए दुकान का सीज कर दिया गया हैं।


आखिर कहां गया 390 क्विंटल गेंहू
पुलिस की प्रारंभिक जांच में 390 क्विंटल से अधिक मात्रा में गेंहू स्टाॅक में कम पाया गया हैं, ऐसे में बडा सवाल उठता हैं कि आखिर 40 टन के करीबन गेंहू कहां गया, जबकि गत दिनों रसद विभाग ने एक शिकायत पर जांच की थी, उसमें इसे दोषी माना गया था, लेकिन रसद विभाग के अधिकारियों की मिलीभगती के चलते इसके खिलाफ कोई कार्रवाई नही की गई, जिसके चलते इसका हौसला बुलंद हो गया, ग्रामीणों की सजगता ने रसद विभाग और राशन डीलर की सांठ-गांठ का भंडाफोड हो गया, अन्यथा गरीबों का निवाला यूं ही बाजार में बिकता रहता।


1994 से एक ही राशन डीलर
जनकार सूत्रों ने बताया कि खारडा भारतसिंह गांव में उक्त राशन डीलर 1994 से उचित मूल्य की दुकान संचालित करता हैं, तथा सरकारी राशन सामग्री से अपना कुनबा रोशन करता गया और गरीबों के हिस्से की सामग्री से अपना घर भरता गया। इस दौरान कई बार शिकायते भी हुई, लेकिन इसके रसूख के आगे प्रशासन लाचार दिखाई दिया।


गेंहू तो पकड़ा गया, केरोसीन और शक्कर का कोई पता नही
ग्रामीण बांकाराम मूढ़, बुद्धदान चारण, सोनाराम, अशोक मूढ, थानराज करेला, मोटाराम, दिव्यांग मीरगों देवी ने बताया कि 40 टन गेंहू के गबन तो उजागर हो गया, लेकिन केरोसीन और शक्कर का भी बडी मात्रा में घपला किया गया हैं, उन्होने बताया कि पोश मषीन वितरण प्रणाली से पहले भी किसी को केरोसीन और शक्कर का वितरण नही किया जा रहा था, उन्होने बताया कि पोश मशीन के बाद भी अधिकांश उपभोक्ताओं केरोसीन नही दिया गया, जबकि उनके खाते से मिट्टी का तेल उठाकर कालाबाजारी में बेचा गया हैं।


नौकर भाई-भतीजों में बांटा गया राशन
उक्त राशन डीलर द्वारा अपने नौकर भाईयों और सगे संबधियों को राशन बांटने का मामला भी सामने आया था, बावजूद इसके भी रसद विभाग के तथा कथित अधिकारियों की खानापूर्ति के चलते इसके खिलाफ कोई कार्रवाई नही की गई थी।

इनका कहना हैं

गाडी में सरकारी गेहू पाया गया, जो अवैध तरीके से परिवहन किया जा रहा था, पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी हैं, साथ ही रिकाॅर्ड तलब किया गया हैं।-गुमानाराम थानाप्रभारी गिड़ा।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages